Politicians and Election, Vote in Freedom, Actively Participate in Democracy, Vote for Change, Online referendum
left right close

Sonia Gandhi

> India > Politicians > Indian National Congress > Sonia Gandhi
Sonia Gandhi is ready for your opinion, support and vote. Vote online NOW!
INC
 
photo Sonia Gandhi

Sonia Gandhi - for

सोनिया गांधी | An Italian-born Indian politician. The current President of the Indian National Congress (INC).
 NO! Sonia Gandhi

Sonia Gandhi - against

क्लिक करें, अगर आप सोनिया गांधी का समर्थन नहीं करते. क्यों कहो. / Click, if you do not support Sonia Gandhi. Say why.

Online election results for "Sonia Gandhi" in graph.

graph
Graph online : Sonia Gandhi
Full functionality only if Javascript and Flash is enabled
> Sonia Gandhi >

Biography

[+] ADD

HIN:

 

सोनिया गांधी (जन्म : ९ दिसंबर, १९४६) एक भारतीय राजनेता है और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की प्रमुख है। वे रायबरेली, उत्तरप्रदेश से सांसद हैं और इसके साथ ही वे १५वीं लोक सभा में न सिर्फ़ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, बल्कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की भी प्रमुख है। वे १४वीं लोक सभा में भी यूपीए की अध्यक्षा थी।

 

राजनीतिक जीवन

पति की हत्या होने के पश्चात कोंग्रेस के वरिष्ट नेताओं ने सोनिया से पूछे बिना उन्हें कांग्रेस का अध्यक्ष बनाये जाने की घोषणा कर दी परंतु सोनिया ने इसे स्वीकार नहीं किया और राजनीति और राजनीतिज्ञों के प्रति अपनी घृणा और अविश्वास को इन शब्दों में व्यक्त किया कि मैं अपने बच्चों को भीख मांगते देख लूँगी, परंतु मैं राजनीति में कदम नहीं रखूँगी। काफ़ी समय तक राजनीति में कदम न रख कर उन्होंने अपने बेटे और बेटी का पालन पोषण करने पर अपना ध्यान केंद्रित किया। उधर पी वी नरसिंहाराव के प्रधानमंत्रित्व काल के पश्चात् कांग्रेस १९९६ का आम चुनाव भी हार गई, जिससे कांग्रेस के नेताओं ने फिर से नेहरु-गांधी परिवार के किसी सदस्य की आवश्यकता अनुभव की। उनके दबाव में सोनिया गांधी ने १९९७ में कोलकाता के प्लेनरी सेशन में कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की और उसके ६२ दिनों के अंदर १९९८ में वो कांग्रेस की अध्यक्ष चुनी गयीं। उन्होने सरकार बनाने की असफल कोशिश भी की। राजनीति में कदम रखने के बाद उनका विदेश में जन्म हुए होने का मुद्दा उठाया गया । उनकी कमज़ोर हिन्दी को भी मुद्दा बनाया गया। उन पर परिवारवाद का भी आरोप लगा लेकिन कोंग्रेसियों ने उनका साथ नहीं छोडा और इन मुद्दों को नकारते रहे।

 

सोनिया गांधी अक्टूबर १९९९ में बेल्लारी, कर्नाटक से और साथ ही अपने दिवंगत पति के निर्वाचन क्षेत्र अमेठी, उत्तर प्रदेश से लोकसभा के लिए चुनाव लड़ीं और करीब तीन लाख वोटों की विशाल बढत से विजयी हुईं। १९९९ में १३वीं लोक सभा में वे विपक्ष की नेता चुनी गयी।

 

२००४ के चुनाव से पूर्व आम राय ये बनाई गई थी कि अटल बिहारी वाजपयी ही प्रधान मंत्री बनेंगे पर सोनिया ने देश भर में घूमकर खूब प्रचार किया और सब को चौंका देने वाले नतीजों में यूपीए को अनपेक्षित २०० से ज़्यादा सीटें मिली। सोनिया गांधी स्वयं रायबरेली, उत्तर प्रदेश से सांसद चुनी गईं। वामपंथी दलों ने भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से बाहर रखने के लिये कोंग्रेस और सहयोगी दलों की सरकार का समर्थन करने का फ़ैसला किया जिससे कोंग्रेस और उनके सहयोगी दलों का स्पष्ट बहुमत पूरा हुआ। १६ मई २००४ को सोनिया गांधी १६-दलीय गंठबंधन की नेता चुनी गई जो वामपंथी दलों के सहयोग से सरकार बनाता जिसकी प्रधानमंत्री सोनिया गांधी बनती। सबको अपेक्षा थी की सोनिया गांधी ही प्रधान मंत्री बनेंगी और सबने उनका समर्थन किया। परंतु एन डी ए के नेताओं ने सोनिया गांधी के विदेशी मूल पर आक्षेप लगाए। सुषमा स्वराज और उमा भारती ने घोषणा की कि यदि सोनिया गांधी प्रधानमंत्री बनीं तो वे अपना सिर मुँडवा लेंगीं और भूमि पर ही सोयेंगीं। १८ मई को उन्होने मनमोहन सिंह को अपना उम्मीदवार बताया और पार्टी को उनका समर्थन करने का अनुरोध किया और प्रचारित किया कि सोनिया गांधी ने स्वेच्छा से प्रधानमंत्री नहीं बनने की घोषणा की है। कांग्रेसियों ने इसका खूब विरोध किया और उनसे इस फ़ैसले को बदलने का अनुरोध किया पर उन्होने कहा कि प्रधान मंत्री बनना उनका लक्ष्य कभी नहीं था। सब नेताओं ने मनमोहन सिंह का समर्थन किया और वे प्रधान मंत्री बने पर सोनिया को दल का तथा गठबंधन का अध्यक्ष चुना गया।

 

राष्ट्रीय सुझाव समिति का अध्यक्ष होने के कारण सोनिया गांधी पर लाभ के पद पर होने के साथ लोकसभा का सदस्य होने का आक्षेप लगा जिसके फलस्वरूप २३ मार्च २००६ को उन्होंने राष्ट्रीय सुझाव समिति के अध्यक्ष के पद और लोकसभा का सदस्यता दोनों से त्यागपत्र दे दिया। मई २००६ में वे रायबरेली, उत्तरप्रदेश से पुन: सांसद चुनी गई और उन्होंने अपने समीपस्थ प्रतिद्वंदी को चार लाख से अधिक वोटों से हराया। 2009 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने फिर यूपीए के लिए देश की जनता से वोट मांगा. एकबार फिर यूपीए ने जीत हासिल की और सोनिया यूपीए की अध्यक्ष चुनी गई।

 

महात्मा गांधी की वर्षगांठ के दिन २ अक्टूबर २००७ को सोनिया गांधी ने संयुक्त राष्ट्र संघ को संबोधित किया।

 

स्रोत

 

 

ENG:

 

Sonia Gandhi (born Edvige Antonia Albina Maino) (9 December 1946) is an Italian-born Indian politician, who has served as President of the Indian National Congress party since 1998. She is the widow of former Prime Minister of India, Rajiv Gandhi and belongs to the Nehru–Gandhi family. After her husband's assassination in 1991, she was invited by Congress leaders to take over the government; but she refused and publicly stayed away from politics amidst constant prodding from the party. She finally agreed to join politics in 1997; in 1998, she was elected as President of the Congress.

 

She has served as the Chairperson of the ruling United Progressive Alliance in the Lok Sabha since 2004. In September 2010, on being re-elected for the fourth time, she became the longest serving president in the 125-year history of the Congress party. Her foreign birth has been a subject of . uch debate and controversy. Although Sonia is the fifth foreign-born person to be leader of the Congress Party, she is the first since independence in 1947.

 

source

18th November 09

updated: 2013-05-05

ElectionsMeter is not responsible for the content of the text. Please refer always to the author. Every text published on ElectionsMeter should include original name of the author and reference to the original source. Users are obliged to follow notice of copyright infringement. Please read carefully policy of the site.

If the text contains an error, incorrect information, you want to fix it, or even you would like to mange fully the content of the profile, please contact us. contact us..


 
Ráhul Gándhí, arguments of SONIA GANDHI, sonia gandhi in shirdi, sonia gandhi election meter, सोनिया गांधी madhavrao scindia, rajiv gandhi and more...
load menu